छोटे व्यापार शुरु करने के लिए लोन कैसे ले |How to take loan to start a small business(Business loan kaise le)

business loan kaise le : छोटे व्यापार शुरु करने के ऑफलाइन बिज़नस लोन कैसे अप्लाई करे (How to apply a business loan offline to start a Small Business in Hindi)

how to take a loan to start a small business in hindi: बिज़नस बड़ा हो या छोटा उसके लिए लोन की जरूरत पड़ती है |आज कल बिज़नस शुरु करने के लिए पैसो की जरूरत होती है और हर किसी के पास पैसा नही होता है इसका यह मतलब नहीं है की वोह बिज़नस शुरु नही कर सकता है इसलिए लोन का आप्शन दिया जाता है ताकी आप अपना बिज़नस स्टार्ट कर सके |लोन कही प्रकार के होते है कही फाइनेंसियल इंस्टिट्यूट लोन दे रही है यहाँ तक की सरकार भी छोटा बिज़नस शुरु करने के लिए लोन दे रही है | लोन लेने के लिए कही कंडीशन पूरी करनी होती है और ब्याज भी देना पड़ता है ब्याज दर हर लोन देने वाले का अलग अलग होता है | हम इस पोस्ट मै बताएँगे की आप छोटे बिज़नस के लिए लोन कहा से ले सकते है |

Information about the Business Loan (बिज़नस लोन के लिए जानकारी ) Business loan kaise le in hindi

Business loan के प्रकार

लोन का मतलब होता किसी से उधार लेना आम बोल चाल मैं हम इसे लोन कहते है हम यह उधार किसी प्राइवेट बैंक या फाइनेंस इंस्टिट्यूट से लेते है | दोस्तों बिज़नस लोन तीन प्रकार के होते है

Old Business Loan(ओल्ड बिज़नस लोन)

अगर आपके पास कोई पहले से बिज़नस है और आप उसके आधार पर लोन लेना चाहते है तोह बैंक आपको ज्यादा पैसा देता है क्यों की उससे आपके बिज़नस पर भरोसा होता है की आप उनका पैसा चूका देंगे अपने पहले से चल रहे बिज़नस के आधार पर इसलिए वोह आपको ज्यादा पैसा देने के लिए तयार रहता है

New Business Loan(नया बिज़नस के लिए लोन)

अगर आपका कोई बिज़नस नहीं है पहेल से तोह बैंक आपको कम पैसे ही देगा लोन के लिए कम पैसे देने की वजह यह है की बैंक यह अनुमान नही लगा पाता है की आपका यह बिज़नस सफल होगा या फिर नही | आप उनका लोन चूका भी पाओगे या फिर नही इस वजह से आपको कम पैसा ही मिल पाता है लोन के लिए

बिज़नस लोन लेने के लिए आधार

लोन लेने के लिए तीन मूल आधार है जोह आपको नीचे बताये गए है

1.मूलधन(Principle Amount): Principle Amount यानी की मूलधन इसका मतलब यह है की जोह पैसा हम उधार के समय’ लेते है तोह जोह अमाउंट होता है उससे अमाउंट को हम प्रिन्सिपल अमाउंट(principle amount) यानी की मूलधन बोलते है

2.ब्याज का दर (rate of interest ): Rate of interest यानी की ब्याज का दर हमे उससे बोलते है जोह दर हमारे प्रिन्सिपल अमाउंट पर लगती है लोन लेने के टाइम पर

3.Duration of Loan(ऋण की समयावधि): Duration of Loan हम उससे कहते की लोन कितने समेह के लिए लिया गया है इससे बात को हमे ध्यान रखना चयिए

Business Loan लेते समेह हमे कोंसी बातो का ध्यान रखना चाहिए

अगर आप बैंक से लोन लेने के बारे मै सोच रहे है तोह आपको कही बातो का ध्यान रखना होगा वोह बाते निचे बताई गयी है

  • लोन लेते टाइम इस बात का ध्यान रखे की emi कम हो ताकि आप लोन चूका सके
  • लोन चुकाने का टाइम period ज्यादा रखे ताकि आप पहले भी लोन चूका पाए
  • लोन आप उठाना ही ले जितना आपको जरूरत हो और हो सके तोह लोन ना ही ले
  • आप लोन उससे बैंक से ले जिसमेह interest rate कम हो
  • लोन हमेसा नामी बैंक से ही ले जैसे की sbi ,icci आदि
  • और एक बात का ध्यान रखे किसी भी broker या दलाल की बातो मैं ना आये

Eligibility of Business Loan(बिज़नस लोन लेने के योगता)

बैंक से लोन लेने की कोई eligibility क्राइटेरिया होता है उससे क्राइटेरिया के आधार पर यह पता लगता है कोन बैंक से लोन ले सकता है और कोन नहीं

  • बैंक से लोन लेने के लिए आपके पास भारतीय नागरिता होनी चाहिए और आपकी उम्र 24 से ज्यादा और 81 से कम होनी चाहिए
  • जोह भी लोन ले रहा है उसको कोई मानशिक या शारीरिक रूप से कोई बीमारी ना हो

Documents Required to take loan from Bank for Business Loan(Business Loan ke liye जरूरी दस्तावेज़)

  • जिससे बैंक से आप लोन ले रहे हो उसमेह savings अकाउंट होना चाहिए
  • आपके पास address proof होना चाहिए
  • लास्ट 6 महीने की बैंक स्टेटमेंट
  • लास्ट 2 साल की आपकी इनकम टैक्स रिपोर्ट
  • आपके पास आइडेंटिटी proof जैसे की aadhar card ,voter id card
  • आपकी फोटो जोह की 3 महीने पुराने ना हो
  • नए बिज़नस स्टार्ट करने से रिलेटेड प्रमाण पत्र.
  • पिछले 3 साल का सेल्स टैक्स रिटर्न  की कॉपी
  • लोन की सुविधा के लिए 2 ग्यारंटर  की जरूरत पड़ेगी

बिज़नस लोन के फायदे और ननुसकान (Advantages and Disadvantages of Business Loan)

बिज़नस लोन के फायदे(Advantages of Small Business Loan)

हम आपको इसमें बतायेंगे की बिज़नस लोन लेने के फायदे क्या है निचे हमने बताया है की बिज़नस लोन लेने के फायदा क्या है

  • आपको पैसो और पूंजी के बारे मै सोचना नही पड़ता आप लोन लेकर अपना बिज़नस शुरु कर सकते है
  • आपको बिज़नस लोन आसानी से मिल जाता वोह भी कम ब्याज दर पर
  • बिज़नस लोन लेते समय आपको कोई कोलैटरल(गिरवी) नही देना पड़ता
  • आपको बिज़नस लोन मै इनकम टैक्स मै लाभ मिलता है

बिज़नस लोन के नुसकान(Disadvantages of Business loan)

लोन अगर आप बिना प्लानिंग और सही समय पे नही चूका पाए तो इसके बहुत नुकसान भी हो सकते है तो हम इस पोस्ट मै आपको बताएँगे की क्या क्या नुकसान हो सकते है

  • ब्याज दर का ज्यादा होना जोह मूलधन पर भारी पर सकता है
  • अगर लोन ना चुकाया जाए सही समय पर तोह सम्पति भी नीलाम हो सकती है
  • लोन की डाउन पेमेंट मै समय बहुत लग जाता तो उसका अमाउंट छोटे छोटे किश्तों मै मिल सकता है

हमे उम्मीद है की आपको हमारा यह पोस्ट जरुर पसंद आया होगा धन्यवाद